12 Important Diabetes Test list in Hindi | मधुमेह से जुड़े अहम टेस्ट





12 Important Diabetes Blood Test list in Hindi , आज हम आपको डायबिटीज से जुड़े कुछ अहम टेस्ट के बारे में बताने जा रहे है । समय के साथ-साथ डायबिटीज व मधुमेह महामारी का रूप ले रहा हैं । समय रहते अगर इसके रोकथाम के उपाय किए जाये तो इससे आसानी से बचा जा सकता हैं क्योंकि हम सब जानते हैं – “सावधानी ही सबसे बड़ी सुरक्षा हैं ”

Important Diabetes Test list in Hindi




1. Oral glucose-tolerance test :- साधारणतः यह टेस्ट प्रेग्नेंसी के दौरान किया जाता है । ओरल ग्लूकोज़ टॉलरेंस टेस्ट के द्वारा, पिछले तीन घंटे के ब्लड शुगर के लेवल की जाँच की जाती है। कुछ डॉक्टर्स इसकी जाँच की शुरुआत एक ब्लड सैम्पल से शुरू करते हैं, और बाकी के दो सैम्पल ग्लूकोज पीने के दो घंटे बाद लेते हैं।
यदि आपको डायबिटीज नहीं है, तो आपका ब्लड शुगर जैसे ही बढ़ेगा वह खुद ब खुद जल्दी ही नीचे भी चला जाएगा। यदि आपको डायबिटीज है, तो आपका लेवल बढ़ेगा लेकिन वह फिर सिर्फ तेजी से बढ़ता ही जाएगा और उतनी तेजी से नीचे नहीं आएगा।

2. HbA1c blood glucose (blood sugar) test :- HbA1c blood टेस्ट मधुमेह से जुड़ा सबसे महत्वपूर्ण टेस्ट है जो की Diabetes Type I & II को सुनिश्चित करने के उपयोग में लाया जाता हैं । मुख्यतः यह टेस्ट पिछले 2 से 3 महीने के अंदर ब्लड में मौजूद ग्लूकोज की मात्रा को सुनिश्श्चित करने के लिए प्रयोग में लाया जाता हैं । स्वास्थ्य के दृश्टिकोण से 6 महीने के अंतराल में यह blood टेस्ट सबको करवा लेना चाहिए ।

HbA1c test के परिणाम से हम मधुमेह का निदान भी कर सकते हैं और मधुमेह के नियंत्रण का आकलन भी कर सकते हैं। HbA1c test के परिणामों को देख कर डॉक्टर आपके दवा में आवश्यक फेरबदल भी कर सकते हैं जिससे की आपकी रक्त शर्करा हमेशा नियंत्रण में रहे और मधुमेह के दुष्परिणाम से आपको दूर रखा जाए।
Dr. Sonu Kumar Dubey के अनुसार ब्लड टेस्ट का परिणाम और निष्कर्ष दिए जा रहे हैं

यह भी देखे

loading…
औशत HbA1c blood glucose 
सामान्य औसत रक्त शर्करा मात्रा – 5.6% या उससे कम
Prediabetes – 5.7%-6.4% के बीच
मधुमेह – 6.5 या उससे ज्यादा
नियंत्रित मधुमेह – 6.5% – 8 % के बीच
अनियंत्रित मधुमेह – 8% या उससे ज्यादा

3. Fasting blood sugar : – पूरी रात बिना कुछ खाये पिए सुबह सुबह इस ब्लड टेस्ट को करवाया जाता हैं ।
Normal result: 70-99 milligrams per deciliter (mg/dl) or less than 5.5 mmol/L

4. Two-hour postprandial test :- इस ब्लड टेस्ट को भोजन करने के 2 घंटे के उपरांत करवाया जाता हैं
Normal result: 70-145 mg/dL (less than 7.9 mmol/L)

5. Random blood sugar :- इस ब्लड टेस्ट को कभी भी किसी भी समय करवाया जा सकता है ।
Normal result: 70-125 mg/dL (less than 7.0 mmol/L)

Important Diabetes Test list in Hindi

Important Diabetes Test list in Hindi

6. Blood pressure checks :- समय समय पर ब्लड प्रेशर चेक करवाते रहना चाहिए. इस टेस्ट के जरिए मुख्यतः हाई ब्लड प्रेशर को diagnosis किया जाता हैं क्योंकि हाई ब्लड प्रेशर से ग्रसित व्यक्ति में stroke and heart attack होने की संभवना काफी बढ़ जाती है ।
अगर आपका ब्लड प्रेशर 80 से 120 के बीच में हैं तो आपका ब्लड प्रेशर नार्मल हैं लेकिन अगर आपका ब्लड प्रेशर 120 से ज्यादा अथवा 80 से कम हैं तो तुरन्त ही किसी डॉक्टर से उचित सलाह ले
वैसे उम्र के लिहाज से यह दबाव कम अधिक होता रहता हैं।

औसत रक्तचाप 
युवा लोगों के लिए – 120/80 एम एम एच जी
वृद्धों के लिए – 140/90 एम एम एच जी

7. Blood test to measure “good” cholesterol, “bad” cholesterol, and triglycerides :- Cholesterol और triglycerides टेस्ट ब्लड में मौजूद फैट की मात्रा को बताता हैं । हमारे शरीर में Good Cholesterol (also called HDL Cholesterol) और Bad Cholesterol (also called LDL Cholesterol) दोनों होते हैं । अगर आपके शरीर में cholesterol की मात्रा अनिश्चित रहती हैं तो आपको stroke and heart attack होने की संभवना काफी बढ़ जाती है ।

औशत cholesterol की मात्रा 
LDL Cholesterol (Bad Cholesterol) – 100  से कम
HDL Cholesterol(Good Cholesterol) for Man – 40 से ज्यादा
HDL Cholesterol (Good Cholesterol) for Woman – 50 से ज्यादा
Triglycerides – 150  से कम

8. “Dilated” eye exam :- आँख से जुड़ा यह टेस्ट भी डायबिटीज को diagnosis करने में मदद करता है । इस टेस्ट की सहायता से आँख के भीतर blood vessels को चेक किया जाता हैं । High Blood Pressure औरखून में मौजूद High Glucose से आँखों के blood vessels क्षति पहुँचती हैं । अगर समय रहते इसका इलाज नही किया गया तो आँखों की रोशनी भी जा सकती है

9. Urine test (पेशाब की जॉच ):- Urine test करने का सीधा अभिप्राय आपके kidney function को चेक करने से होता हैं । साधारणतः इस जाँच के माध्यम से “albumin” नामक प्रोटीन की मात्रा को चेक किया जाता हैं ।अगर किसी के Urine में albumin की मात्रा ज्यादा हैं तो उसका kidney सही तरीके से function नहीं कर रहा होता है ।
अगर कोई लम्बे समय से High Blood Pressure और High Glucose से प्रभावित है तो उसके किडनी के tiny blood vessels काफी ज्यादा प्रभावित होते हैं । जिससे की albumin नामक प्रोटीन का ज्यादा मात्रा में leakage होना शुरू हो जाता है । यह काफी गंभीर समस्या हैं । कई परिस्थितयो में kidney पूरी तरीके से काम करना बंद कर देती हैं

10. Complete foot exam :- डायबिटीज से प्रभावित व्यक्ति के पैरों के नसों में समस्या देखनो को मिलती हैं । अगर कोई व्यक्ति से मधुमेह से प्रभावित है तो उसके पैरों में blood का circulation सही तरीके से नहीं हो पाता है । अगर लंबे समय से आपके पैरो में झनझनाहट , सुन्न पड़ना, सूजना जैसी दिक्कते महसूस होती है तो सम्भवतः Complete foot examing अवश्य करा ले और सुनिशिचित कर ले की यह मधुमेह से जुड़े लक्षण तो नहीं हैं ।

11. Exam of your gums and teeth :- डायबिटीज से प्रभावित व्यक्ति के मसूड़ो और दाँतो में भी समस्या देखनो को मिलती है । लंबे समय तक मसूड़ो में सूजन और छाले , दाँतो में झनझनाहट, दाँतो से खून का रिसाव, बदबू, जैसे कई लक्षण देखनो को मिल सकते है । 6 महीने के अंतराल पे संभव हो तो gums and teeth से जुड़े टेस्ट करवा लेने चाहिए

12. Over Weight Test :- Over Weight मधुमेह का मुख्य घटक हैं । इसलिए संभवतः अपने weight को कण्ट्रोल में रखे हम आपको नीचे height और gender के हिसाब से weigh chart दे रहे है जिससे आप भी आसानी से अपने वजन को निर्धारित कर पाएंगे




Height(Feet & Metres) Men Weight(Kg) Women Weight(Kg)
5′-0″(1.523 m) 50.8 – 54.4 50.8 – 54.4
5′-1″(1.548 m) 51.7 – 55.3 51.7 – 55.3
5′-2″(1.574 m) 56.3 – 60.3 53.1 – 56.7
5′-3″(1.599 m) 57.6 – 61.7 54.4 – 58.1
5′-4″(1.624 m) 58.9 – 63.5 56.3 – 59.9
5′-5″(1.650 m) 60.8 – 65.3 57.6 – 61.2
5′-6″(1.675 m) 61.6 – 66.7 58.9 – 63.5
5′-7″(1.700 m) 64.0 – 68.5 60.8 – 65.3
5′-8″(1.726 m) 65.8 – 70.8 62.2 – 66.7
5′-9″(1.751 m) 67.6 – 72.6 64.0 – 68.5
5′-10″(1.777 m) 69.4 – 74.4 65.8 – 70.3
5′-11″(1.802 m) 71.2 – 76.2 67.1 – 71.7
6′-0″(1.827 m) 73.0 – 78.5 68.5 – 73.9
6′-1″(1.853 m) 73.3 – 80.7 73.3 – 80.7
6′-2″(1.878 m) 77.6 – 83.5 77.6 – 83.5
6′-3″(1.904 m) 79.8 – 85.9 79.8 – 85.9

मधुमेह से जुड़े अन्य जरुरी लेख

डायबिटीज,मधुमेह,ब्लड प्रेशर का घरेलु इलाज
डायबिटीज,मधुमेह के 6 प्रकार
मधुमेह होने के कारण
मधुमेह के 15 खास लक्षण
मधुमेह होने के अहम कारण

हमारे द्वारा प्रकशित इस लेख ” Like & Share “ करना न भूले जिससे की हमारी यह जानकरी ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंदों तक पहुँचे । हमारे इस प्रयास में भागीदारी बने धन्यवाद !

3 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.