Avoid Unwanted Pregnancy Home Remedies in Hindi | अनचाहे प्रेगनेंसी के लिए घरेलू नुस्खे

Avoid Unwanted Pregnancy Home Remedies in Hindi, कई बार दंपति जाने अनजाने जरुरी सावधानियॉ बरतने के बावजूद भी अनचाहे प्रेगनेंसी के शिकार हो जाते हैं । लेकिन ऐशी परिस्थितियों में उन्हें कतई घबराना नहीं चाहिए । क्योंकि हम आपको आज Avoid Unwanted Pregnancy Home Remedies (अनचाहे प्रेगनेंसी के लिए घरेलू नुस्खे) बताने जा रहे हैं । ध्यान रखे, अगर गर्भ ठहरे हुए 9 सप्ताह से ज्यादा हो गया हो, तो सर्जिकल गर्भपात हीं अच्छा रहेगा. आइये जाने गर्भपात के प्राकृतिक तरीके…….

Avoid Unwanted Pregnancy Home Remedies in Hindi

संछिप्त विश्लेषण

1. गर्भपात से पहले जरुरी सावधानियॉ
2. Avoid Unwanted Pregnancy Home Remedies (गर्भपात के प्राकृतिक तरीके)
3. Avoid Unwanted Pregnancy Ayurvedic Remedies (गर्भनिरोधक आयुर्वेदिक नुस्खेँ)

गर्भपात से पहले जरुरी सावधानियॉ

गर्भपात के घरेलू नुस्खे बताने से पहले कुछ खास सावधानियों के बारे में भी जान लेना जरुरी हैं ।
☆ गर्भ के 20 हफ्तों तक गर्भपात कराना भारत में कानूनी तौर पर मान्य है ।
☆ इस सीमा को 24 हफ्तों तक बढ़ाने के लिए संसद में पिछले दो सालों से विधेयक भी लंबित है
☆ एक सर्वे की माने तो, भारत में हर दो घंटे में एक महिला की मृत्यु असुरक्षित गर्भपात की वजह से होती है
☆ गर्भ से छुटकारा पाने के दो सुरक्षित तरीके हैं. एक मेडिकल और दूसरा सर्जिकल.
☆ पहले तरीके में आप गोली खाकर गर्भपात करती हैं
☆ दूसरे तरीके में डॉक्टर की मदद से गर्भपात करवाया जाता हैं
☆ पहली तिमाही के दौरान किए गए गर्भपात को सबसे सुरक्षित समझा जाता हैं इनसे आने वाले समय में आपकी प्रजनन क्षमता पर कोई खतरा होने की संभावनाएं कम होती हैं.
☆ 18 वर्ष से कम और 40 वर्ष से अधिक Age की महिलाओं के लिए गर्भपात खतरनाक हो सकता है.
☆ ध्यान रखें गर्भनिरोधक गोलियों का ज्यादा उपयोग भविष्य में गर्भ ठहरने में भी समस्या उत्पन्न कर सकता है, तथा इन गोलियों का ज्यादा उपयोग स्त्री के शरीर के लिए भी ठीक नहीं है.

गर्भपात के प्राकृतिक तरीके | Unplanned Pregnancy Home Remedies

1. पपीते :-
पपीते में पेपाइन नामक एसिड होता है जो कि Avoid Unwanted Pregnancy Home Remedies के लिए सबसे बेहतर विकल्प है

2.Vitamin C :-
विटामिन सी एक प्राकृतिक कंट्रासेप्‍टिव मानी जाती है। इसमें शुद्ध एस्‍कॉर्बिक एसिड होता है जो कि प्रोजेस्‍ट्रॉन के प्रोडक्‍शनर को रोक कर इस्‍ट्रोजेन के प्रोडक्‍शन को उत्‍तेजित कर देता है जिससे अंडा अपनी जगह नहीं बना पाता। प्रेगनेंसी सुनिश्चित होने के तुरंत बाद रोजाना 10 से 12 एम जी विटामिन सी लेना शुरु कर दें।

3. पाइनएप्‍पल :-
Pineapple जिसे अनानास भी कहते हैं इसमें bromelain नामक एंजाइम होता है जो कि पपीते के ही तरह असरदार होता है। यह सर्विक्‍स को मुलायम बना कर गर्भपात करवा देता है।

4.इलायची :-
इलायची का सेवन भी गर्भपात के प्राकृतिक तरीके के लिए उपयुक्त हैं लेकिन ध्यान रखें कि इलायची रात में नहीं खानी चाहिए.

5.भूने हुए तिल :-
तिल में abortifaciant गुण होता हैं अगर कुछ दिनों तक भूने हुए तिल के दाने को honey ( शहद ) के साथ खाएँ, तो यह प्राकृतिक रूप से गर्भपात के तरीके के लिए सक्षम हैं .

6.सीता फल के बीज :-
सीता फल के बीज को पीसकर अपनी योनी में अच्छी तरह से मलें, इससे अनचाहा गर्भ नहीं ठहरेगा. ऐसा कुछ दिनों तक लगातार करना आपको अनचाहे प्रेगनेंसी से बचाने के तरीको में मददगार साबित हो सकता हैं

7.नीम :-
ये शुक्राणु के गतिशीलता को घटा देती है इसके कारण वो अंडे को फर्टिलाइज़ नही कर पाते और गर्भ का ख़तरा कम हो जाता है| इसकी पत्तियों आयल और कॅप्सुल फॉर्म मे use किया जाता है|

8.सूखे apricots :-
100 ग्राम मात्रा को 2 बड़े चम्मच शहद के साथ पानी मे 30 मिनिट्स तक उबाल कर एक बार में एक कप पीने से natural birth control मे मदद मिलती है|

गर्भनिरोधक आयुर्वेदिक नुस्खेँ | Avoid Unwanted Pregnancy Herbal Remedies

1.कैस्टर यानी अरंडी :-
इसके बीज को फोड़ें और इनमें मौजूद सफेद बीज को निकालें। सेक्स के 72 घंटे के भीतर महिलाएं इसका सेवन करें तो यह आई-पिल की तरह ही गर्भधारण रोक सकता है।

2.सूखे पुदीने के पत्ते :- पत्तो का पाउडर बनाएं और स्टोर कर लें। सेक्स के पांच मिनट के बाद एक ग्लास गुनगुने पानी के साथ एक चम्मच पाउडर का सेवन करें। महिलाओं के लिए यह नैचुरल कंट्रासेप्टिव दवा का काम करेगा।

3.गुड़हल के फूल :-
पेस्ट बनाएं इसमें स्टार्च मिलाएं। पीरियड्स के शुरुआती तीन दिनों तक इसका सेवन कंट्रासेप्टिव की तरह ही काम करेगा।

4.आंवला, रसनजनम और हरितकारी :-
इन सबको समान मात्रा में मिलाकर पावडर बना ले इनका सेवन पीरियड्स के चौथे दिन से 16वें दिन तक करें तो यह गर्भनिरोधक गोलियों की तरह ही असरदार होता है।

5.अजमोड़ा :-
अजमोड़ा को इंग्लीश मे parsley कहते हैं| ये आसानी से आपको किसी हर्बल शॉप या पंसारी के दुकान से मिल सकती है| इसकी बनी हुई चाय पीने से गर्भ ठहरने के समस्या दूर हो सकती है

गर्भधारण से जुड़े लेख
अनचाहे गर्भ से बचने के लिए सेक्स पोजीशन
गर्भावस्था के दौरान यौन संबंध बनाना सुरक्षित हैं या नहीं
संतान और गर्भधारण प्राप्ति के खास उपाय एवं टोटके
गर्भधारण करने के लिए बेस्ट सेक्स पोजीशन
18+ गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण व संकेत
11+ घरेलू प्रेगनेंसी टेस्ट के तरीके
गर्भावस्था में भ्रूण किस प्रकार विकसित होता है
लड़कियों में कब और कैसे शुरू होता है पीरियड
लड़के और लडकियां हस्थमैथुन कैसे और कब करते है
गर्भधारण के दौरान सावधानियॉ
प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए

शीघ्रपतन से जुड़े लेख

शीघ्रपतन क्या है
शीघ्रपतन के कारण
शीघ्रपतन होने के लक्षण व संकेत
30 से भी ज्यादा शीघ्रपतन के घरेलू इलाज

One comment

  • आयुर्वेदिक मेडिसिन्स एक बहुमूल्य उपहार है जो बिना किसी नुकसान के हमारी बीमारियों का इलाज करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.